एक लंबे विराम के बाद ये नई शुरूआत है। पुरानी पारी देखने के लिए हेडर में पुराना घर टैब क्लिक करें।

मेरे बारे में

>> शुक्रवार, 25 मई 2007


विशेष कुछ भी नहीं है मेरे बारे में। एक आम भारतीय, भारत के हृदय स्थल मध्य प्रदेश के मालवांचल में राजा भोज की धारा नगरी (वर्तमान धार शहर) में पैदा हुआ वहीं पर बचपन बीता, शिक्षा भी वहीं पर हुई, और अब यहीं मालव माटी पर देवी अहिल्या के इन्दौर शहर में वेबदुनिया में कार्यरत हूँ। खाली समय में, जो कि आज की दौड़ती भागती जिंदगी में से चुराना पड़ता है, अपने परिवार के साथ बिताना पसंद करता हूँ, फिर भी कुछ खाली रह जाए तो कुछ पढ़ता हूँ, इसके बाद भी समय रहे तो कोरे काग़ज़ पर कुछ आकृतियाँ उकेरने का प्रयास करता हूँ, रेडियो का शौकीन, और कभी कभी टीवी देख कर उस पर भी एहसान कर देता हूँ। पढ़ने में कहानियों और निबंध को प्राथमिकता, विज्ञान गल्प तो बहुत ही पसंद है। इसके बाद कविता, नाटक, उपन्यास आदि पर कृपा की जाती है। वैसे जब पसंदीदा विषय की पुस्तकें पढ़ने को नहीं हो तो किसी भी विषय-धर्म, दर्शन, राजनीति, पर्यावरण, इतिहास, विज्ञान आदि- से काम चला लेता हूँ। फ़िल्में बहुत देखा करता था। रुपहले पर्दे के लिए दीवानगी थी। आज भी फ़िल्में देखता हूँ पर सिनेमा हाल में कम और घर पर सीडी, डीवीडी पर ज्यादा।
AddThis Feed Button AddThis Social Bookmark Button

1 टिप्पणी:

Sanjeeva Tiwari 26 मई 2007 को 6:09 pm  

भईया आप भी अपना ज्ञान हमें बांटे
मालवा से हमें बहुत उम्मीदें हैं
लिखते रहे . . . .

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणी नि‍श्चित रूप से बेहतर लिखने के लिए प्रेरित करेगी, भले ही मेरे विचारों से आपकी सहमति हो या असहमति। आभार

आगंतुक

लेखा-जोखा

विजेट आपके ब्लॉग पर

  © Blogger template Simple n' Sweet by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP